इलेक्ट्रॉन की खोज किसने की थी – Electron ki khoj kisne ki thi

Electron Ki Khoj: इलेक्ट्रॉन क्या है, इसकी खोज किसने की थी और कब की थी? इलेक्ट्रॉन पर चार्ज कितना होता है, यदि आप भी इन सभी प्रश्नों के उत्तर जानना चाहते है तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको Electron ki khoj kisne ki इसके बारे में जानकारी देगें। आइये इलेक्ट्रॉन के खोजकर्ता के बारे में विस्तार से जानते है।

इलेक्ट्रॉन की परिभाषा – Definition of Electron in Hindi

इलेक्ट्रॉन एक विद्युत आवेशित कण है जिस पर ऋणात्मक वैद्युत आवेश (माइनस चार्ज) होता है। इलेक्ट्रॉन किसी परमाणु के तीन प्रकार के मूल कणों में से एक है जो परमाणु में नाभिक के चारों ओर चक्कर लगाता हैं। Electron का द्रव्यमान सबसे छोटे परमाणु (हाइड्रोजन) से भी हजारगुना कम होता है।

(यह भी पढ़ें – प्रोटॉन की खोज किसने की थी)

इलेक्ट्रॉन की खोज किसने की थी – Who discovered the electron in Hindi

परमाणु के नाभिक में चारों और चक्कर लगाने वाले इलेक्ट्रॉन की खोज सन 1897 में भौतिक विज्ञानी जे.जे. थॉमसन (Sir Joseph John Thomson) ने की थी। Electron को कैथोड किरणों (Cathode rays) के साथ उत्पन्न किया जा सकता है।

(यह भी पढ़ें – जड़त्व का नियम किसे कहते हैं?)

इलेक्ट्रॉन की खोज कैसे हुई – Electron ki khoj kaise hui

सन 1897 में ब्रिटेन के भौतिक विज्ञानी जे. जे थोमसन, कैथोड रे ट्यूब के साथ प्रयोग कर रहे थे, तब उनको पता चला कि सभी परमाणुओं के चारों नेगेटिव चार्ज वाले उप-परमाणु कण या इलेक्ट्रॉन होते हैं। थॉमसन ने परमाणु के प्लम पुडिंग मॉडल (plum pudding model) का प्रस्ताव दिया, जिसमें नेगेटिव चार्ज वाले इलेक्ट्रॉनों को पोजिटिव रूप से चार्ज किए गए “सूप” के भीतर एम्बेडेड किया गया था।

(यह भी पढ़ें – ओम का नियम क्या है )

इलेक्ट्रॉन पर आवेश कितना होता है – Electron par kitna charge hota hai

जे.जे. थॉमसन ने इलेक्ट्रॉन के आवेश की खोज की थी, उन्होंने बताया था कि इलेक्ट्रॉन पर 1.6 × 10−19 कूलम्ब (C) चार्ज होता है। द्रव्यमान 9.109 × 10−31 किग्रा. होता है। इसका प्रतीक e⁻, β⁻ है।

(यह भी पढ़ें – Physics in Hindi PDF)

इलेक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी की खोज की थी – Electron sukshma darshi ki khoj kisne ki

इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप की खोज (Electron sukshma darshi ki khoj) अर्न्स्ट रुस्का (Ernst Ruska) ने थी। अर्न्स्ट रुस्का ने मैक्स यूनिवर्सिटी के साथ बर्लिन विश्वविद्यालय में सन 1931 में पहला ट्रांसमिशन इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप (TEM) बनाया था। इसके लिए 1986 में रुस्का को भौतिकी का नोबेल पुरस्कार दिया गया।

Source Link – hi.wikipedia.org

यह भी पढ़ें –

यदि आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहें और आपको हमारे द्वारा दी गई पसंद आयी है तो आप इस प्रकार की और अधिक जानकारी के लिए हमारे Facebook के पेज को Like और हमें Twitter पर फॉलो कर सकते हैं।

मैं एक ब्लॉगर हूँ और इस वेबसाइट पर सामान्य ज्ञान के लिए आर्टिकल लिखता हूँ। अगर आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं, तो यह वेबसाइट आपकी मदद कर सकती है। Facebook | Instagram

कमेंट करके बताएं...