पाचन तंत्र के प्रमुख अंगों के नाम – Manav Pachan Tantra Ke Bhag

क्या आप मानव पाचन तंत्र के बारे में जानना है? पेट में खाना पचाने के लिए डाइजेशन सिस्टम (Digestive system in Hindi) हमारे शरीर की बहुत ही महत्वपूर्ण प्रकिया है। आज हम खाना को पचाने के लिए पाचन तंत्र के प्रमुख अंगों के नाम के बारे जानते है। भोजन का पाचन हमारे मुँह से ही प्रारंभ हो जाता है और इसे पचाने में अलग-अलग अंग अपनी भूमिका निभाते है। भोजन का पाचन कैसे होता है यदि आप भी इसके बारे में जानना चाहते है तो आइये Manav Pachan tantra के बारे में विस्तार से जानते है।

पाचन क्रिया में भाग लेने वाले सभी अंग – Digestive system organs in Hindi

हमारे शरीर के सभी पाचन तंत्र के भाग (pachan tantra ke bhag) के नाम यहाँ पर क्रम अनुसार दिए गया है। यह क्रम भोजन मुँह से अंदर जाने से लेकर अपशिष्ट पदार्थ के रूप में बाहर निकलने तक दिया गया है।

  1. मुंह (mouth)
  2. ग्रासनली (Esophagus)
  3. पेट (stomach)
  4. अग्नाशय (Pancreatic)
  5. यकृत या जिगर (Liver)
  6. पित्ताशय (Gallbladder)
  7. छोटी आंत (small intestine)
  8. बड़ी आंत (Large intestine)
  9. मलाशय (Rectum)

(यह भी पढ़ें – मानव के शरीर में कितनी हड्डियां होती हैं)

मानव पाचन तंत्र – Human Digestive System in Hindi

Pachan tantra ka chitra

मनुष्य का पाचन तंत्र किस प्रकार से कार्य करता है आइये इसे विस्तार से जानते है।

(यह भी पढ़ें – 25 टॉप साइंस इम्पोर्टेन्ट क्वेश्चन)

मुँह

पाचन की प्रक्रिया का प्रारंभ मुँह में भोजन को चबाने के साथ ही हो जाता है, लार भोजन में ठीक ढंग से मिल जाती है, जो भोजन को पचाने में मदद करती है।

मानव लार में टायलिन नामक एंजाइम पाया जाता है। टायलिन स्टार्च को माल्टोज में परिवर्तित कर देता है। लार में 98.5% पानी तथा 1.5% एंजाइम पाये जाते है। लार हल्का सा अम्लीय होता है।

यकृत

हमारे शरीर की सबसे बड़ी ग्रंथि है। जिसका वजन लगभग 1.5 किलोग्राम है। यह शरीर के उदर गुहा में दाहिने डायफ्राम के नीचे स्थित होता है। यकृत कोशिकाएं एक विशिष्ट द्रव का स्त्राव करती है। जिसे पीतरस कहते है। जब शरीर में पीत का निर्माण ज्यादा हो जाती है। तो पीलिया नामक रोग हो जाता है।

यकृत के कार्य

  • शरीर में ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित करता है।
  • यूरिया का निर्माण करता है।
  • पीतरस का निर्माण करता है।
  • रक्त के ताप को नियंत्रित करता है।

आमाशय

यह एक थैलीनुमा रचना होती है। जिसकी दीवारों पर गैस्ट्रिक ग्रंथियां होती है। ये गैस्ट्रिक अम्ल का उत्पादन करती है। आमाशय से निकलने वाले जठर रस में पेप्सिन एवं रेनिन एंजाइम होते है। आमाशय में भोजन लगभग चार घंटे रहता है। पेप्सिन प्रोटीन को खंडित कर सरल पदार्थों में परिवर्तित कर देता है। रेनिन दूध की घुली हुई प्रोटीन कैसीनोजेन को ठोस प्रोटीन केल्सियम पेराकेसिनेट के रूप में बदल देता है। प्रोटीन का पाचन आमाशय में होता है।

पक्वाशय

यहाँ अग्नाशय से अग्नाशय रस आकर भोजन में मिलता है। इसमें तीन प्रकार के एंजाइम होते है।

ट्रिप्सिन (Trypsin) – प्रोटीन एवं पेप्टोन को पालीपेप्टाइडस (Polypeptide) तथा अमीनो अम्ल में परिवर्तित करता है।

एमाइलेज (Amylase) – मांड (starch) को घुलनशील शर्करा (sugar) में परिवर्तित करता है।

लाइपेज (Lipase) – इम्ल्सीफाइड (Emulsified) वसाओं को ग्लिसरीन तथा फेटी एसीड्स में परिवर्तित करता है।

छोटी आंत

पक्वाशय (Duodenum) के बाद भोजन छोटी आंत में जाता है। जो लगभग 22 फिट लंबी नली होती है। इसे इलियम (ilium) भी कहा जाता है। छोटी आंत की दीवारों पर भी ग्रंथियां पायी जाती है। जो विभिन्न प्रकार के एंजाइमो का स्रवण करती है। इन रसो से भोजन के बड़े अणु छोटे अणुओं में विखंडित होकर अवशोषण के योग्य बन जाते है।

बड़ी आंत

छोटी आंत के बाद भोजन के बचे हुए अवशिष्ट पदार्थ बड़ी आंत में आते है। जहाँ जल का अवशोषण होता है। इस क्रिया के पश्चात अवशिष्ट पदार्थ मल के रूप में मलाशय में जाता है और गुदा द्वारा होकर शरीर से बाहर चला जाता है। पाचन क्रिया में बड़ी आत की कोई विशिष्ट भूमिका नहीं होती है। इसका मुख्य कार्य उपचित खाध पदार्थो से जल का अवशोषण करना है।

(यह भी पढ़ें – विटामिन के रासायनिक नाम, खोजकर्ता और उनकी कमी से होने वाले रोग)

डाइजेशन सिस्टम मीनिंग इन हिंदी – Digestive system in hindi meaning

डाइजेशन सिस्टम का हिंदी में मीनिंग पाचन तंत्र (Pachan tantra) होता है। पाचन तंत्र के अन्य सभी नामों के हिंदी मीनिंग जानते है।

  • Stomach meaning in Hindi
  • स्तोमच का मतलब हिंदी में पेट होता है जिसमें सभी पाचन क्रिया संपन्न होती है।
  • Pancreas meaning in Hindi
  • पैंक्रियास या पैंक्रियाज का मीनिंग हिंदी में अग्न्याशय होता है।
  • Gallbladder meaning in Hindi
  • गाल ब्लैडर का मतलब हिंदी में पित्ताशय या पित्तकोश होता है।
  • Liver meaning in Hindi
  • लीवर को हिंदी में जिगर या यकृत कहा जाता है।
  • Oesophagus (Esophagus) meaning in Hindi
  • एसोफैगस हिंदी मीनिंग ग्रासनली (घुटकी) होता है। यह एक गले की नली जिससे खाना-पानी पेट में जाता है।
  • Intestine meaning in Hindi
  • इंटेस्टिने का मलतब हिन्दी में आंत या आंत्र होता है।
  • Small intestine meaning in Hindi
  • स्मॉल इंटेस्टाइन मीनिंग इन हिंदी छोटी आंत होता है।
  • Large intestine meaning in Hindi
  • लार्ज इंटेस्टाइन का मतलब बड़ी आंत होता है।

(यह भी पढ़ें – 100+ जीव विज्ञान जीके प्रश्न)

यदि आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहें और आपको हमारे द्वारा दी गई पसंद आयी है तो आप इस प्रकार की और अधिक जानकारी के लिए हमारे Facebook के पेज को Like और हमें Twitter पर फॉलो कर सकते हैं।

मैं एक ब्लॉगर हूँ और इस वेबसाइट पर सामान्य ज्ञान के लिए आर्टिकल लिखता हूँ। अगर आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं, तो यह वेबसाइट आपकी मदद कर सकती है। Facebook | Instagram

Leave a Comment

%d bloggers like this: