बिहार की राजधानी क्‍या है – Bihar Ki Rajdhani Kya Hai

बिहार राज्‍य की राजधानी का नाम क्‍या है और यह कहॉं पर स्थित है? यदि आप भी Bihar Ki Rajdhani के बारे जानना चाहते है तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको बिहार की राजधानी से जुड़ी कई प्रकार की रोचक व आकर्षक जानकारी भी बताएँगे। इसके अलावा Bihar से जुड़े अन्य प्रश्न जैसे बिहार की राजधानी पटना कब बनी, बिहार की उप राजधानी कहां है और पटना का इतिहास कितना वर्ष पुराना है। आइये इसे विस्तार से जानते हैं।

बिहार राज्य के बारे में 

बिहार एक भारतीय राज्‍य है जिसे पूर्वी, उत्‍तरी और उत्‍तर-मध्‍य भारत का हिस्‍सा माना जाता है। सम्राट अशोक के समय मगध में 19 हजार बौद्ध बिहार थे, इन्‍हीं वजह से बिहार कहा जाता है। बिहार भारत की प्राचीन सभ्‍यता का समृद्ध केंद्र है, यह राज्‍य चन्‍द्रगुप्‍त मौर्य एवं सम्राट अशोक से संबंधित रहा है। य‍ह तेरहवें सबसे बड़ा भारतीय राज्‍य है, जिसका क्षेत्रफल 94,163 वर्ग किलो मीटर (36,357 वर्ग मील) है।

इस राज्‍य में तीन मुख्‍य क्षेत्र मगध, मिथिला और भोजपुर हैं। 12 दिसम्‍बर 1911 को संयुक्‍त बिहार एवं उड़ीसा के प्रावधान को बदलकर 1936 में बि‍हार को अलग राज्‍य बनाया गया। बिहार का वर्तमान स्‍वरूप  01 नवम्‍बर 1956 में अस्तित्‍व में आया।

बिहार की राजधानी

बिहार की राजधानी (Bihar Ki Rajdhani) का नाम पटना (Patna) है, जो गंगा नदी के दक्षिणी किनारे पर स्थित है। बिहार की राजधानी पटना शहर भारत के सबसे पुराने शहरों में से एक माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि भारत को जब आजादी मिली थी तो आजादी के बाद भी बिहार की राजधानी को ही बिहार की राजधानी बनाया गया। यह करने का सबसे बड़ा कारण य‍ह था कि बिहार में अन्‍य सभी प्रमुख शहरों से पटना की प‍हुँच आसान थी। 

पटना की समुद्र तल से ऊंचाई 57 मीटर है। यह शहर 25.60 अक्षांश और 50.12 देशांतर पर स्थित है। बिहार की राजधानी पटना शहर अपनी प्रारंभिक सभ्‍यता के लिये जाना जाता है। पटना शहर में कई उघोग हैं जो कि पटना में 36 लाख लोगों को रोजगार देते हैं। बिहार की राजधानी पटना शहर राज्‍य का सबसे प्रमुख व्‍यापारिक केन्‍द्र है। तथा सभी राज्‍यों के अलावा पटना में सबसे ज्‍यादा व्‍यापार संचालित होते हैं। 

यह भी पढ़ें – भारत के राज्य और राजधानी 2020 – Bharat ke Rajya aur Rajdhani

बिहार की राजधानी पटना कब बनी 

बिहार की राजधानी पटना सन् 1912 में बनी थी। हम सब जानते हैं कि आजादी के बाद पटना बिहार की राजधानी बना रहा। सन् 1912 में बंगाल विभाजन के बाद पटना को उड़ीसा तथा बिहार की राजधानी बनाया गया। पटना का पुराना नाम पाटलिपुत्र था जोकि 600 ईसा पूर्व इतिहास में पाया गया था। यह पर पटना, नालंदा, भोजपुर, बक्‍सर, रोहतास, और कैमूर राज्‍य हैं। सम्राट अशोक ने यहीं से अपना शासन किया था। तथा चन्‍द्रगुप्‍त और समुद्रगुप्‍त जैसे पराक्रमी शासकों की यह राजधानी रही है। चन्‍द्रगुप्‍त के काल में यहीं पर ग्रीक दूत मेगस्‍थनीज आकर रहा था।

यह भी पढ़ें – पंजाब की राजधानी क्या है – Punjab Ki Rajdhani

बिहार की उप राजधानी कहाँ है

क्या आपको पता है कि बिहार की पटना के अलावा एक उप राजधानी भी राजधानी भी जिसका नाम भागलपुर है। भागलपुर को 2012 में उप राजधानी घोषित किया गया था। उप राजधानी उसे कहते है जो किसी राजधानी के बाद दूसरी मुख्‍य राजधानी हो या कोई दूसरा मुख्‍य स्‍थान हो। पटना बिहार का सबसे बड़ा शहर माना जाता है। यह एक प्राचीन शहर है जो गंगा के दक्षिणी छोर पर बसा हुआ है।

बिहार राजकीय

1.राज्‍य भाषाहिंदी, उर्दू
2.राज्‍य फूलगेंदा
3.राज्‍य पक्षीगौरैया
4.राज्‍य वृक्षपीपल

भारत के अन्‍य राज्‍यों की तरह राज्‍य की लगभग तीन-चौथाई जनसंख्‍या कृषि एवं पशुपालन संबंधी व्‍यवसायों पर निर्भर है। प्राचीन बिहार शिक्षा का बहुत बड़ा केंन्‍द्र था। मौर्य और गुप्‍त वंश ने इस इलाके पर काफी समय तक शासन किया था। 

यह भी पढ़ें – राजस्थान की राजधानी क्या है – Rajasthan Ki Rajdhani

पटना की राजधानी क्या है

पटना एक शहर है और शहर के पास कोई राजधानी नहीं होती है, राजधानी केवल राज्‍यों और देश के पास होती है।

यह भी पढ़ें – दिल्ली की राजधानी क्या है – Delhi ki Rajdhani

पटना का इतिहास कितना वर्ष पुराना है

पटना का इतिहास 490 ईसा पूर्व से होता है। पटना का पुराना नाम पाटलीपुत्र था। क्‍या आप जानते हैं कि अजात शत्रु ने पाटलीपुत्र बनाई थी। पटना की स्‍थापना मगध के राजा ने की थी। यहॉं पर कई विद्वान रहे हैं, जिन्‍होंने अर्थशास्‍त्र जैसी रचना लिखी है। ऐसा कहा जाता है कि शुरूवाती समय में पाटलीपुत्र लकड़ियों से बना था, पर सम्राट अशोक ने नगर को शिलाओं की संरचना में बदल दिया। पटना जिसका पुराना नाम पाटलीपुत्र है यहॉं पर कई शासकों का शासन रहा है। 

यह भी पढ़ें – हरियाणा की राजधानी की क्या है – Haryana Ki Rajdhani

पटना का पुराना नाम क्‍या क्‍या है

पटना का पुराना नाम पाटलिपुत्र था। पटना का नाम समय के साथ परिवर्तित होकर पाटलिग्राम, पुष्‍पपुरी, कुसुमपुर, अजीमाबाद, और आधुनिक दौर में पटना नाम से जाना जाता है। पटना एक सबसे बडा शहर है। बिहार की राजधानी पटना को सभी लोग जानते हैं, लोक कथाओं के अनुसार राजा पत्रक को पटना का जनक कहा जाता है। ऐसा कहा जाता है कि उन्‍होंने अपनी पत्‍नी रानी पाटलि के लिये जादू से इस नगर का निर्माण किया। इसी कारण इस नगर का नाम पाटलिपुत्र पड़ा। बाद में इसका नाम पाटलिपुत्र और अब पटना हो गया है।  

यह भी पढ़ें –

यदि आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहें और आपको हमारे द्वारा दी गई पसंद आयी है तो आप इस प्रकार की और अधिक जानकारी के लिए हमारे Facebook के पेज को Like और हमें Twitter पर फॉलो कर सकते हैं।

मैं एक ब्लॉगर हूँ और इस वेबसाइट पर सामान्य ज्ञान के लिए आर्टिकल लिखता हूँ। अगर आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं, तो यह वेबसाइट आपकी मदद कर सकती है। Facebook | Instagram

Leave a Comment

%d bloggers like this: