B.com का फुल फॉर्म – Full form of B.com in Hindi

B.com का full form “Bachelor of Commerce” होता हैं। यदि हम B.com का फुल फॉर्म (B.com full form Hindi) की बात करें तो इसको हिंदी में बैचलर ऑफ़ कॉमर्स कहा जाता हैं। B.com एक स्नातक की डिग्री है जिसको अंग्रेजी में Bachelor’s degree कहा जाता हैं। इंटरमीडिएट (Intermediate) अर्थात 12 वीं कक्षा पास होने के बाद वाणिज्य विषयों में एक स्नातक डिग्री प्राप्त करने के लिए बीकॉम किया जाता है। B.com एक ग्रेजुएशन (Graduation) डिग्री हैं जिसको करने के लिए स्टूडेंट्स को कॉलेज में एडमिशन लेना होता हैं। आइये B.com full form Hindi को विस्तार से जानते हैं।

बी कॉम क्या है – What is B.com in Hindi

B.com एक कॉलेज डिग्री है इसको करना के लिए कॉलेज में एडमिशन लेना पड़ता है। बीकॉम एक तीन साल का कोर्स है, तीन साल के बाद आपको इसकी डिग्री प्राप्त होती है। B.com करने वाले स्टूडेंट्स को तीन साल तक लेखा एकाउंटिंग, इकोनॉमिक, सांख्यिकी, मार्केटिंग मैनेजमेंट और व्यवसायिक गणित आदि विषयों को पढ़ना होता है। बीकॉम को करने के लिए स्टूडेंट्स को पहले से ही तैयारी करनी होती हैं। आइये जानते है की इसको करने के लिए किस प्रकार की पात्रता की आवश्यकता होती हैं। अभी आप B.com का फुल फॉर्म पढ़ रहें हैं 

बी कॉम के लिए पात्रता – B.Com Course Eligibility in Hindi

जो भी छात्र बीकॉम करना चाहते है उनको 10 वीं क्लास पास होने के बाद कॉमर्स विषय (Commerce subject) को लेकर तैयारी करना होता है। B.com करने के लिए स्टूडेंट्स कक्षा 11वीं और 12वीं तक वाणिज्य अर्थात कॉमर्स विषय की पढ़ाई करते है। उसके बाद B.com करने के लिए कॉलेज में एडमिशन लिया जाता है। तीन साल तक इसकी पढ़ाई करने के बाद आपको अपनी यूनिवर्सिटी से बीकॉम की डिग्री प्राप्त हो जाती है। अभी आप B.com का फुल फॉर्म पढ़ रहें हैं

बी कॉम के सब्जेक्ट लिस्ट – B.com Subject List in Hindi

यदि आप बी कॉम करना चाहते है तो आपको B.com के सभी विषयों के बारे में पता होना चाहिए जिससे आप अपनी पसंद के विषय चुन सकें। यहाँ पर b.com General subjects और b.com computers subjects की लिस्ट दी गई है जहाँ से आप अपनी रूचि के अनुसार विषय को चुन सकते हैं। बी कॉम के सभी सब्जेक्ट की लिस्ट निम्न है-

  • मैनेजमेंट (Management)
  • फाइनेंस मैनेजमेंट (Finance management)
  • मार्केटिंग मैनेजमेंट (Marketing management)
  • कॉस्ट अकाउंटिंग (Cost Accounting)
  • लेखा एकाउंटिंग (Accounting)
  • निगमीय लेखांकन (Corporate Accounting)
  • अर्थशास्त्र (Economics)
  • फंडामेंटल (Fundamental)
  • कार्मिक प्रबंधन (Personnel management)
  • सांख्यिकी (Statistics)
  • बैंकिंग लॉ (Banking Law)
  • लेबर लॉ (Labor Law)
  • व्यवसायिक गणित (Business mathematics)

बीकॉम का सिलेबस – B.com syllabus in Hindi

B.com अर्थात बैचलर ऑफ कॉमर्स में वाणिज्य (commerce) और उससे संबंधित विषयों में स्नातक डिग्री (undergraduate degree) है। इस commerce subject के तहत, छात्रों को एकाउंटिंग (Accounting), अर्थशास्त्र (Economics), फाइनेंस मैनेजमेंट (Finance management), प्रबंधन और बीमा जैसे वाणिज्य के विभिन्न विषयों में उनकी समझ प्रदान की जाती है। 

अभी आप पढ़ B.com का फुल फॉर्म रहें हैं

यह भी पढ़ें – 

यदि आप सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहें और आपको हमारे द्वारा दी गई पसंद आयी है तो आप इस प्रकार की और अधिक जानकारी के लिए हमारे Facebook के पेज को Like और हमें Twitter पर फॉलो कर सकते हैं।

Leave a Comment